Saturday, December 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

कुश्ती में बजरंग सेमीफाइनल मुकाबला हारे:अजरबैजान के पहलवान पर लीड के बाद पूनिया ने पॉइंट गंवाए, अब ब्रॉन्ज के लिए खेलेंगे

टोक्यो

टोक्यो ओलिंपिक में भारत की ओर से मेडल के दावेदार पहलवान बजरंग पूनिया सेमीफाइनल मुकाबला हार गए हैं। अजरबैजान के हाजी अलीयेव ने उन्हें 12-5 से हराया। अलीयेव 57 किलोग्राम में रियो 2016 के ब्रॉन्ज मेडलिस्ट और 61 किलोग्राम में 3 बार के वर्ल्ड चैंपियन हैं। अब बजरंग पूनिया शनिवार को ब्रॉन्ज मेडल के लिए अखाड़े में उतरेंगे।

शुरुआत में बढ़त बनाई, पर फिर लगातार पिछड़ते गए
शुरुआती मिनट में ही बजरंग ने एक पॉइंट की बढ़त बना ली थी। लेकिन, अजरबैजान के पहलवान ने बजरंग पर उन्हीं का दांव लगा दिया। फीतले दांव की मदद से अजरबैजान के पहलवान ने बजरंग के खिलाफ कई पॉइंट बटोरे। 65 किलोग्राम वेट कैटेगरी के क्वार्टर फाइनल मैच में पूनिया ने एशियाई चैंपियनशिप के ब्रॉन्ज मेडलिस्ट ईरान के मोर्टेजा घियासी को हराकर जीत हासिल की थी।

क्वार्टर फाइनल में की थी जबरदस्त वापसी, वैसा सेमी में नहीं कर पाए

क्वार्टर फाइनल में बजरंग एक समय 1-0 से पिछड़ रहे थे। इसके बाद आखिरी मिनट में बजरंग ने 2 पॉइंट हासिल किए। फिर उन्होंने ईरानी पहलवान को चित करते हुए मुकाबले से ही बाहर कर दिया। बजरंग को विक्ट्री बाय फॉल रूल से विजेता करार दिया गया। सेमीफाइनल में भी जब डेढ़ मिनट बाकी रह गए थे, तब बजरंग ने फीतले दांव लगाने की कोशिश की। लगा कि वे वापसी कर लेंगे, लेकिन दांव उल्टा पड़ा और बजरंग 2 पॉइंट गंवा बैठे। इसके बाद उनकी वापसी असंभव हो गई।

प्री-क्वार्टर फाइनल मैच के दौरान बजरंग पूनिया।

प्री-क्वार्टर फाइनल मैच के दौरान बजरंग पूनिया।

प्री-क्वार्टर फाइनल में बजरंग को हुई थी मुश्किल
बजरंग ने ओलिंपिक का आगाज जीत से किया। उन्होंने आज ही प्री-क्वार्टर फाइनल में किर्गिस्तान के एर्नाजर अकमातालिवे पर तकनीकी आधार पर जीत हासिल की। बजरंग ने एक वक्त किर्गिस्तान के पहलवान पर 3-1 की लीड ले ली थी।

दूसरे पीरियड में तो बजरंग ने अकमातालिव की टांग पकड़कर फीतले दांव लगाने की कोशिश की, लेकिन दूसरी टांग हाथ में नहीं आने से चूक गए। आखिरी कुछ सेकंड में अकमातालिवे ने वापसी की और 2 बार पूनिया को रिंग से बाहर को 2 पॉइंट हासिल किए।

इसके बाद स्कोर 3-3 से बराबर हो गया था। मैच समाप्त होने पर किसने एक साथ ज्यादा पॉइंट हासिल किए, इसपर मैच का नतीजा निकला। बजरंग ने एक साथ 2 पॉइंट बनाए थे। इस आधार पर उन्हें विजेता घोषित किया गया।

ट्यूनीशिया की हमदी ने भारत की सीमा बिस्ला को हरा दिया।

ट्यूनीशिया की हमदी ने भारत की सीमा बिस्ला को हरा दिया।

सीमा बिस्ला को हार मिली
एक अन्य भारतीय पहलवान सीमा बिस्ला शुक्रवार को अपने पहले ओलिंपिक में महिलाओं की 50 KG फ्रीस्टाइल के पहले मुकाबले में ट्यूनीशिया की सारा हमदी से हार गईं।

भारत को ओलिंपिक में अब तक 5 मेडल
भारत ने टोक्यो ओलिंपिक में अब तक 5 मेडल जीते हैं। मीराबाई चानू ने वेटलिफ्टिंग में सिल्वर, पीवी सिंधु ने बैडमिंटन में ब्रॉन्ज और लवलिना बोरगोहेन ने बॉक्सिंग में ब्रॉन्ज मेडल जीता है। इसके अलावा गुरुवार को भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ब्रॉन्ज और कुश्ती में रवि दहिया ने सिल्वर मेडल जीता। यह 2012 लंदन ओलिंपिक के बाद भारत का दूसरा सबसे सफल ओलिंपिक बन गया है।

रवि दहिया को फाइनल में रूसी पहलवान के हाथों हार का सामना करना पड़ा।

रवि दहिया को फाइनल में रूसी पहलवान के हाथों हार का सामना करना पड़ा।

कुश्ती में भारत को अब तक 6 ओलिंपिक मेडल
पहलवान सुशील ने भारत के लिए ओलिंपिक में लगातार दो मेडल जीतने का रिकॉर्ड बनाया था। सुशील ने 2008 बीजिंग ओलिंपिक में ब्रॉन्ज और 2012 लंदन ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीता था। रवि को मिलाकर भारत ने कुश्ती में 6 मेडल जीते हैं।

रवि और सुशील के अलावा योगेश्वर दत्त ने 2012 में ब्रॉन्ज, साक्षी मलिक ने 2016 रियो ओलिंपिक में ब्रॉन्ज जीता था। केडी जाधव भारत के लिए ओलिंपिक रेसलिंग में मेडल जीतने वाले पहले रेसलर थे। उन्होंने 1952 हेलसिंकी ओलिंपिक में यह कारनामा किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *