Monday, January 30निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

ऐतिहासिक-धार्मिक स्थानों की मिट्टी से होगा राहुल गांधी का तिलक

  • एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने एकत्रित की टाउन स्थित ऐतिहासिक भटनेर दुर्ग की मिट्टी
    हनुमानगढ़ (सीमा सन्देश न्यूज)।
    कांग्रेस नेता राहुल गांधी की राजस्थान यात्रा को लेकर प्रदेश कांग्रेस के साथ ही अग्रिम संगठन तैयारियों में जुटे हुए हैं। एनएसयूआई संगठन की ओर से भी राहुल गांधी का अलग अंदाज में राजस्थान में स्वागत किया जाएगा। इसे लेकर शौर्य और बलिदान के लिए जाने जाने वाले राजस्थान प्रदेश के धार्मिक और ऐतिहासिक स्थानों की मिट्टी एकत्रित कर राहुल गांधी का राजस्थान आगमन पर इस मिट्टी से तिलक कर उनका स्वागत किया जाएगा। इसे लेकर एनएसयूआई ने अपनी तैयारियों को तेज कर दिया है और अलग-अलग स्थानों पर एनएसयूआई पदाधिकारियों ने मिट्टी को एकत्रित करना शुरू कर दिया है। हनुमानगढ़ जिले के ऐतिहासिक व धार्मिक स्थलों से भी मिट्टी एकत्रित की जा रही है। मंगलवार को एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने टाउन स्थित ऐतिहासिक भटनेर दुर्ग की कुछ मिट्टी एकत्रित की। इस मिट्टी को झालावाड़ भेजा जाएगा। एनएसयूआई कार्यकर्ता सद्दाम हुसैन ने बताया कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का तीन या चार दिसम्बर को राजस्थान में आने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। उन्होंने बताया कि एनएसयूआई प्रदेशाध्यक्ष अभिषेक चौधरी के निर्देशानुसार हर जिले के ऐतिहासिक स्थलों से कुछ मिट्टी एकत्रित की जा रही है। उस मिट्टी से कांग्रेस नेता राहुल गांधी का राजस्थान में पहुंचने पर तिलक किया जाएगा। इसी कड़ी में मंगलवार को हनुमानगढ़ जिले के ऐतिहासिक स्थल टाउन स्थित भटनेर दुर्ग से मिट्टी एकत्रित की गई है। यह मिट्टी यहां से झालावाड़ भेजी जाएगी। वहां कांग्रेस नेता राहुल गांधी का तिलक किया जाएगा। इसके अलावा जिले के अन्य ऐतिहासिक स्थल भद्रकाली माता मंदिर, नादिर शाह दरगाह, कालीबंगा से भी कुछ मिट्टी एकत्रित कर झालावाड़ भेजी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिस तरह से वर्तमान में देश के हालात हैं, इस यात्रा के माध्यम से देश को एक बार फिर जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। जातियां और धर्म के बीच साम्प्रदायिक सौहार्द बनाए रखने के साथ ही एकता और भाईचारा बना रहे, इस उद्देश्य से यह यात्रा निकाली जा रही है। भारत को एक बार फिर जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह यात्रा झालावाड़ से शुरू होकर अलग-अलग मार्गों से होते हुए गुजरेगी। ऐसे में शौर्य वीर और त्याग बलिदान की भूमि पर राहुल गांधी का शानदार स्वागत किया जाएगा। इस भूमि को पूरे विश्व में जाना जाता है। ऐसे में इसकी मिट्टी का तिलक लगाकर उनका स्वागत एनएसयूआई की ओर से किया जाएगा। इस मौके पर एनएसयूआई के कई कार्यकर्ता मौजूद थे।