Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

ऋषभ का हाल जानने पहुंचे अनुपम खेर और अनिल कपूर:बोले- हम उसे चीयर-अप करने पहुंचे थे, सभी प्रार्थना कर रहे हैं कि वो जल्द ठीक हो जाएं

30 दिसंबर को ऋषभ पंत का बूरी तरह से एक्सीडेंट हो गया। यह खबर सुनकर 31 दिसंबर को एक्टर अनिल कपूर और अनुपम खेर उनसे मिलने देहरादून के मैक्स हॉस्पिटल पहुंचे। हॉस्पिटल के एंट्रेंस गेट का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें अनिल और अनुपम खेर ऋषभ से मिलने के लिए जाते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस दौरान गेट पर खड़ा स्टाफ दोनों का वेलकम करता है। यूजर्स दोनों के इस जेस्चर की खूब तारीफ कर रहे हैं।

हम ऋषभ पंत को चीयर-अप करने गए थे- अनुपम खेर
न्यूज एजेंसी PTI ने कहा- ‘वह रिकवर कर रहा है। हम उसके फैंस के तौर पर उससे मिलने गए थे। हम सभी प्रार्थना कर रहे हैं कि वो जल्द से जल्द ठीक हो जाएं और हम उसे फिर से खेलते हुए देखें।’ वहीं अनुपम खेर बताया- वहां हम पंत को को चीयर अप करने गए थे। उन्होंने कहा-‘ सब कुछ ठीक है। हम पंत उनकी मां और रिश्तेदारों से मिले, वे सभी ठीक हैं। हमने उन्हें खूब हंसाया।’

उर्वशी ने ऋषभ के लिए प्रार्थना
दरअसल, एक्सीडेंट की खबर के कुछ देर बाद उर्वशी ने इंस्टाग्राम पर अपनी एक खूबसूरत फोटो शेयर की। पोस्ट में उर्वशी ने लिखा- ‘प्रेइंग( प्रार्थना कर रही हूं)।’ हालांकि, उन्होंने पोस्ट में कहीं ऋषभ का नाम नहीं लिया, लेकिन यूजर्स का मानना है कि उर्वशी का यह पोस्ट ऋषभ पंत के लिए लिखा गया है। उर्वशी की यह फोटो बेहद सुर्खियों में है, एक तरफ जहां कुछ लोग कमेंट सेक्शन में ऋषभ के ठीक होने की दुआएं कर रहे हैं, तो वहीं कई लोग उर्वशी के इस रवैए के लिए उन्हें ट्रोल कर रहे हैं।

उर्वशी पर भड़के यूजर्स
जाहिर सी बात है, ऋषभ के इतने गंभीर एक्सीडेंट के बाद उर्वशी का पोस्ट देखकर फैंस भड़क उठे हैं। एक यूजर ने कमेंट में लिखा- ‘इधर ऋषभ का एक्सीडेंट हुआ है और तुझे सजने की पड़ी है।’ दूसरे यूजर ने लिखा- ‘नागिन हो क्या?’ तीसरे यूजर ने कमेंट में लिखा- ‘ऋषभ भाई को देखकर आ जाओ फोटो बाद में डाल लेना।’ उर्वशी के इस पोस्ट ऐसे कमेंट्स की भरमार है।’
क्या है पूरा मामला?
ऋषभ पंत के साथ यह हादसा सुबह 5.30 बजे रुड़की के नारसन बॉर्डर पर हम्मदपुर झाल के मोड़ पर हुआ। झपकी के बाद उनकी मर्सिडीज अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई। यह जगह उनके घर से 10 किलोमीटर दूर है। उस वक्त कार की रफ्तार 150 किमी/घंटे थी। कार 200 मीटर तक घिसटते चली गई।

सामने आए वीडियो के मुताबिक उनकी मर्सिडीज अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई, जिसके बाद कार में बुरी तरह से आग लग गई। हालांकि, ऋषभ जलती कार की खिड़की तोड़कर बाहर निकल आए। उनके सिर, पीठ और पैर पर गंभीर चोटें आई हैं। डॉक्टरों के मुताबिक, उनकी हालत खतरे से बाहर है। उन्हें इलाज के लिए रुड़की से देहरादून ले जाया गया है। यहां के मैक्स हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा है।

मां को सरप्राइज देने अकेले घर जा रहे थे
पंत अकेले घर जा रहे थे। डॉक्टर सुशील नागर ने दैनिक भास्कर को बताया कि वह अपनी मां को सरप्राइज देने के लिए जा रहे थे।

डॉक्टर बोले- सीट बेल्ट पहने होते तो कार में झुलस सकते थे
डॉक्टर सुशील नागर ने दैनिक भास्कर को बताया कि पंत सीट बेल्ट नहीं पहने थे। इसलिए वे सुरक्षित बाहर आ गए। अगर वे सीट बेल्ट पहने होते तो कार में आग लगने के बाद वह झुलस सकते थे।