Friday, December 9निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

आचार्य प्रमोद ने खुलकर की सचिन पायलट को CM बनाने की मांग, बोले- पायलट को इंसाफ मिलना चाहिए

जयपुर
कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद ने कहा कि राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट को इंसाफ मिलना चाहिए। आचार्य प्रमोद ने आज मीडिया से बात करते हुए कहा कि राजस्थान का मुख्यमंत्री जो भी होगा जनता की भावनाओं का सम्मान करते हुए फैसला लिया जाएगा। राजस्थान के मुख्यमंत्री का फैसला विधायक करेंगे और कांग्रेस नेतृत्व करेगा। कांग्रेस नेतृत्व राजस्थान की जनता की भावनाओं का सम्मान करते हुए कोई फैसला लेगा। मुझे लगता है कि राजस्थान के हित में अच्छा होगा। सचिन पायलय को इंसाफ मिलना चाहिए। यह मैं मानता हूं। आचार्य प्रमोद ने कहा कि सीएम अशोक गहलोत कांग्रेस के सच्चे सिपाही है। उनका 50 साल का राजनीतिक जीवन निष्कलंक रहा हैं। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद सचिन पायलट समर्थक माने जाते हैं। पहले भी सचिन पायलट को सीए बनाने की मांग कर चुके हैं। 

सचिन पायलट प्रबल दावेदार

आपको बता दें सीएम अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद मुख्यमंत्री पद छोड़ना तय है। सीएम गहलोत पद छोड़ने की बात कह चुके हैं। ऐसे में सीएम गहलोत का स्थान लेने के लिए रेस में सचिन पायलट सबसे आगे चल रहे हैं। हालांकि, राजस्थान का सीएम कौन बनेगा इसका निर्णय पार्टी आलाकमान करेगा।  सीएम गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद पद छोड़ देंगे। आचार्य प्रमोद ने उदयपुर में हुए नव संकल्प शिविर के दौरान की भी सचिन पायलट की सीएम बनाने की मांग की थी। आचार्य प्रमोद ने कहा कि सचिन पायलट को सीएम बनाया जाना चाहिए। 

गहलोत नहीं भूले हैं पायलट की बगावत 

राजस्थान की राजनीती में आने वाले दिन काफी उठापटक वाले रहेंगे। क्योंकि सीएम गहलोत सचिन पायलट की बगावत को नहीं भूले हैं। गहलोत कभी नहीं चाहेंगे की सचिन पायलट सीएम बने, लेकिन पार्टी आलाकमान के निर्णय को सीएम गहलोत इंकार भी नहीं कर सकते हैं।  सीएम गहलोत बार-बार सचिन पायलट की बगावत को याद कर कांग्रेस आलाकमान तक संदेश पहुंचाते रहे हैं कि पायलट को जिम्मेदारी सौंपना ठीक नहीं है। लेकिन अब राजनीतिक समीकरण तेजी से बदल रहे हैं।